अमेजन प्राइम की वेब सीरीज के मामले में मुंबई पहुंची यूपी पुलिस की जांच की रफ्तार सुस्त

अमेजन प्राइम की वेब सीरीज के मामले में मुंबई पहुंची यूपी पुलिस की जांच की रफ्तार सुस्त

Web Series की जांच को लेकर मुंबई में है यूपी पुलिस

मुंबई:

अमेजन प्राइम वीडियो की वेब सीरीज तांडव और मिर्जापुर के मामले में मुंबई पहुंची यूपी पुलिस की जांच की रफ्तार बेहद सुस्त नजर आ रही है. उत्तर प्रदेश के दो पुलिस थानों की टीम मुंबई में डेरा डाले हुए हैं. इनमें से एक लखनऊ के हजरतगंज पुलिस थाने की और दूसरी मिर्जापुर के कोतवाली देहात पुलिस की टीम तांडव वेब सीरीज में हिन्दू देवी देवताओं का मज़ाक उड़ाकर हिंदुओं की भावना भड़काने की एफ़ आईआर दर्ज है तो मिर्जापुर वेब सीरीज के खिलाफ जिले के अपमान का मामला दर्ज किया गया है.  

यह भी पढ़ें

दोनों ही पुलिस थानों की टीमें मुंबई में 2 दिन से डेरा डाले हुए हैं, लेकिन जांच के नाम पर शायद ही कुछ कर पायी हो.उनका ज्यादातर वक्त मुम्बई क्राइम ब्रांच से कॉर्डिनेशन के इंतजार में ही बीत रहा है. कोतवाली देहात पुलिस के एस एचओ  बी.ए. चौरसिया अपनी टीम के साथ 21 जनवरी को मिर्जापुर  वेब सीरीज की निर्माता कंपनी एक्सेल एंटरटेनमेंट के को फाउंडर फरहान अख्तर का बयान दर्ज करने खार में उनके घर पहुंचे थे, लेकिन खबर है कि क्राइम ब्रांच से कॉर्डिनेशन के अभाव में बयान दर्ज नही हो सका. शुक्रवार को जब टीम मिर्जापुर वेब सीरीज की जांच करने टीम बीकेसी में अमेजन दफ़्तर गई तो वहां तैनात प्राइवेट सिक्योरिटी और मुम्बई पुलिस ने उन्हे इजाजत लेकर आने को कहा.

वर्क फ्रॉम होम से दिक्कतें
बाद में यूपी के पुलिसकर्मी बीकेसी पुलिस थाने गये. जहां बीकेसी पुलिस थाने के अधिकारियों ने उन्हें अमेजन कंपनी के लीगल टीम का नंबर दिया . उनसे बात करने के बाद मिर्जापुर पुलिस टीम कहीं चली गई. हालांकि मुम्बई पुलिस का कहना है कि इस समय अमेजन दफ़्तर में ज्यादातर लोग वर्क फ्रॉम होम ही करते हैं. इसलिए मुम्बई पुलिस ने लखनऊ को अमेज़न के लीगल टीम का नंबर देकर मदद की.

Newsbeep

तांडव के डायरेक्टर का बयान दर्ज
 20 जनवरी से मुंबई आई लख़नऊ पुलिस ने शुक्रवार को तीसरे दिन तांडव वेब सीरीज के डायरेक्टर अली अब्बास जफर, लेखक गौरव सोलंकी और प्रोड्यूसर हिमांशु मेहरा का बयान दर्ज किया.बी के सी में अमेजन कंपनी के ज्यादातर लोग वर्क फ्रॉम होम काम करते हैं इसलिए कंपनी के अधिकारियों का बयान दर्ज नही पाया. तीनों का ही बयान  जांच अधिकारी अनिल कुमार सिंह और दया शंकर द्विवेदी ने दर्ज किया.खबर है कि तांडव वेब सीरीज विवाद की जांच के लिए मुम्बई आई लखनऊ पुलिस जल्द यूपी लौट जाएगी.

गौरतलब है कि तांडव वेब सीरीज की टीम को बोम्बे हाई कोर्ट से ट्रांजिट ABA मिला हुआ है. हालांकि इसके पहले  20 जनवरी को लखनऊ पुलिस टीम का पूरा दिन मुम्बई क्राइम ब्रांच का चक्कर लगाने में गया. 21 जनवरी को अब्बास अली और गौरव सोलंकी घर पर नही मिले तो पुलिस ने उन्हें नोटिस देकर बयान के लिए उपलब्ध रहने को कहा था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *