गाजीपुर बॉर्डर पर बदला माहौल, आंदोलन में शामिल होने भारी संख्या में पहुंचे किसान

रजनीश त्रिपाठी/गाजियाबाद: गाजीपुर बॉर्डर पर किसान नेता राकेश टिकैत अपने समर्थकों के साथ डटे हुए हैं. उनके समर्थन में मुजफ्फरनगर से किसान पहुंच रहे हैं. गाजीपुर के आस-पास के इलाकों में इंटरनेट सेवा रोक दी गई है. दिल्ली से सटे गाजीपुर बॉर्डर और गाजियाबाद को आने वाली एनएच-24 की सड़कें बंद कर दी गई हैं. दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने इस बात की जानकारी दी. किसानों के प्रतिनिधि अनशन पर हैं. दिल्ली से सटी सीमाओं पर किसान भारी संख्या में मौजूद हैं. किसानों के प्रदर्शन के दौरान किसी अनहोनी को टालने के लिए भारी संख्या में पुलिस बल भी तैनात किए गए हैं. वहीं सिंघु बॉर्डर पर किसान नेता दर्शनपाल सिंह ने इंटरनेट सेवा बहाल करने की मांग की है. उन्होंने कहा कि हमारी बातें लोगों तक न पहुंच सके इसके लिए इंटरनेट सेवा रोकी गई है. इसे तुरंत बहाल करना चाहिए.

वहीं किसान नेता राकेश टिकैत के समर्थन में पहुंचे किसानों ने कहा कि नेता हमारे पास आ रहे हैं वो अपने स्वार्थ के लिए आ रहे हैं. किसान के साथ हैं, लेकिन बिना स्वार्थ के कोई नहीं आता. हम शांति से आंदोलन करेंगे. किसानों ने आज सद्भावना दिवस मनाने का ऐलान किया था. वह सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे भूख हड़ताल पर बैठे हैं.

UP Panchayat Chunav 2021: बीजेपी ने जारी की जिला प्रभारियों की लिस्ट, वेस्ट यूपी में ज्यादा फोकस

पश्चिम यूपी से आ रहे किसान
शुक्रवार को किसानों की महापंचायत में फैसला हुआ था मुजफ्फरनगर और पश्चिमी यूपी के अन्य जिलों से किसान शनिवार को दिल्ली की तरफ कूच करेंगे. मुजफ्फरनगर महापंचायत में फैसला लिया गया कि अभी फौरन सीधा दिल्ली नहीं जाना है. गाजीपुर बॉर्डर पर पहले से ही बहुत लोग पहुंच गए हैं. शनिवार से लोग अपने-अपने हिसाब से दिल्ली जाएं और आंदोलन को मजबूत करें.

अन्ना ने बदला अनशन का मन
वहीं कृषि कानूनों के खिलाफ अन्‍ना हजारे अनशन नहीं करेंगे. किसान हित में सरकार के कदमों का उन्होंने समर्थन किया है. अन्‍ना ने महाराष्‍ट्र के पूर्व सीएम देवेंद फडणवीस की मौजूदगी में अनशन न करने का फैसला किया है. 

नाविक ने छेड़ी ऐसी तान, मंत्रमुग्ध हो गए सुनने वाले, देखिए Viral Video

सिंघु और टिकरी बॉर्डर का ये है हाल
सिंघु बॉर्डर पर हिंसा के मामले में एसएचओ अलीपुर पर तलवार से हमला करने वाले सहित 44 लोगों को गिरफ़्तार किया गया है. दिल्ली पुलिस सिंघु बॉर्डर पर भारी संख्या में सुरक्षाबल के साथ तैनात है. वहीं टिकरी बॉर्डर पर बड़ी संख्या में सुरक्षाबल तैनात है. कृषि कानूनों के खिलाफ यहां किसानों का विरोध-प्रदर्शन जारी है.

VIDEO: दिल्ली ब्लास्ट के बाद अब हरिद्वार पुलिस एक्शन में, शहर भर में कर रही चेकिंग

हरियाणा के 17 जिलों में आज शाम 5 बजे तक इंटरनेट बंद
किसान आंदोलन को देखते हुए हरियाणा सरकार ने तुरंत प्रभाव से अंबाला, यमुनानगर, कुरुक्षेत्र, करनाल, कैथल, पानीपत, हिसार, जींद, रोहतक, भिवानी, चरखी दादरी, फतेहाबाद, रेवाड़ी और सिरसा जिलों में वॉयस कॉल को छोड़कर इंटरनेट सेवाओं को 30 जनवरी शाम 5 बजे तक के लिए बंद करने का निर्णय लिया है. सोनीपत, पलवल व झज्जर में पहले ही इंटरनेट सेवाओं पर रोक लगी हुई है.

WATCH LIVE TV

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *