100 रुपए नहीं मिलने से नाराज लड़की निकली थी घर से, 28 जनवरी को जंगल से मिली लाश

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

​​​​​​​चैनपुर (गुमला)5 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
कुछ बच्चे 28 जनवरी को जब नक्सल प्रभावित क्षेत्र मडाईकोना गांव स्थित भथुरा लकड़ा कोना जंगल में गाय चराने पहुंचे, तो उन्होंने जिसी मिंज के शव देखा। (फाइल) - Dainik Bhaskar

कुछ बच्चे 28 जनवरी को जब नक्सल प्रभावित क्षेत्र मडाईकोना गांव स्थित भथुरा लकड़ा कोना जंगल में गाय चराने पहुंचे, तो उन्होंने जिसी मिंज के शव देखा। (फाइल)

  • मालमू हो कि जिसी मिंज की हत्या गला रेत कर की गई थी

चैनपुर थाना क्षेत्र के भथुरा लकड़ा कोना जंगल से 28 जनवरी गुरुवार को मिली युवती के शव की पुलिस ने शिनाख्त कर ली है। युवती जिसी मिंज (19) गुमला के डुमरी थाना क्षेत्र के पुटरुंगी गांव की रहने वाली थी। वो मंगलवार को अपनी मां से 100 रुपए नहीं मिलने से नाराज होकर घर से निकल गई थी। मालमू हो कि जिसी मिंज की हत्या गला रेत कर की गई थी।

युवती के पिता प्रोहित मिंज ने थाने में अज्ञात अपराधियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कराया है। जिसी मिंज पंजाब में मजदूरी का काम करती थी। लॉकडाउन के समय से ही अपने घर पुटरुंगी आ गई थी और यहीं रह रही थी। मंगलवार को अपनी मां से 100 रुपए की मांग की थी। नहीं मिलने पर घर से नाराज होकर घर निकल गई। जाते वक्त जिसी मिंज ने परिजनों को पंजाब काम पर वापस जाने के लिए ऑनलाइन टिकट करवाने की बात कहकर डुमरी थाना क्षेत्र के जैरागी गांव निकली थी। इसके बाद वह घर वापस नहीं लौटी। परिजनों ने सोचा कि किसी रिश्तेदार या अपनी सहेलियों के घर गई होगी इसलिए जिसी को नहीं ढूंढ़ा।

बताते चलें कि गुरुवार को गांव के कुछ बच्चे जब नक्सल प्रभावित क्षेत्र मडाईकोना गांव स्थित भथुरा लकड़ा कोना जंगल में गाय चराने पहुंचे, तो उनकी नजर जिसी मिंज के शव पर पड़ी। इसके बाद बच्चों ने इसकी जानकारी गांव के लोगों को दी। फिर गांव के लोगों द्वारा चैनपुर थाने को सूचना दी गई। युवती की हत्या गला रेत कर की गई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *