उज्जैन में BJP सांसद को मिली ‘VIP’ व्यवस्था,घर में कार्यकर्ताओं को कोरोना टीका लगने पर विवाद

उज्जैन में BJP सांसद को मिली 'VIP' व्यवस्था,घर में कार्यकर्ताओं को कोरोना टीका लगने पर विवाद

उज्जैन से भाजपा सांसद अनिल फिरोजिया ने अपने स्टॉफ को घर पर लगवाया कोरोना का टीका (प्रतीकात्मक)

उज्जैन:

देश में जारी कोरोना की दूसरी लहर (Coronavirus Second Wave) के बीच वैक्सीन (Corona Vaccination) के लिए टीकाकरण केंद्रों पर भारी भीड़ एकत्र हो रही है. आपूर्ति कम होने की वजह से कई केंद्रों पर वैक्सीन पहुंच ही नहीं रही है. कहीं वैक्सीन की कमी के चलते लोगों को लंबे इंतजार के बाद खाली हाथ घर लौटना पड़ा रहा है. ऐसे में एक भाजपा सांसद (BJP Mp) अपने लोगों को घर में टीका लगवा रहे हैं. हम बात कर रहे हैं मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के उज्जैन (Ujjain) से सांसद अनिल फिरोजिया (Anil Firojiya) की. सांसद के घर पर हो रहे ‘वीआईपी’ टीकाकरण की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है.

यह भी पढ़ें

भारत में वैक्सीन कोरोना के वैरिएंट से निपटने में सक्षम, लेकिन प्रभावशीलता घटेगी :  विशेषज्ञ

बताया जा रहा है कि तस्वीर में सांसद के स्टॉफ और समर्थक टीका लगवाते दिख रहे हैं. स्वास्थ्य विभाग की टीम ने बकायदा भाजपा सांसद अनिल फिरोजिया के घर पर पहुंचकर उनके लोगों को टीका लगाया. अनिल फिरोजिया ने अपने स्टाफ को सेठी नगर स्थित घर पर वैक्सीन लगवाई है. इस मामले में तराना से कांग्रेस के विधायक महेश परमार ने कहा कि सांसद अनिल फिरोजिया आम लोगों का हक मार रहे हैं.

इससे पहले अनिल फिरोजिया का नाम तब सुर्खियों में आया था जब एक भाजपा नेता की ऑक्सीजन की कमी के चलते मौत हो गई थी. मध्‍य प्रदेश के उज्‍जैन शहर के माधवनगर अस्पताल में बीते माह ऑक्सीजन की कमी के चलते भारतीय जनता पार्टी (BJP) मंडल अध्यक्ष जितेंद्र शीरे की मौत हो गई थी. उनकी मौत से गुस्साए परिजनों का एक वीडियो वायरल हुआ था, इस वीडियो में परिजन सांसद अनिल फिरोजिया को जमकर खरी खोटी सुना रहे थे. 

स्पूतनिक लाइट होगी भारत में पहली सिंगल डोज कोरोना वैक्सीन, जून में बातचीत : सूत्र | Sputnik V की पहली डोज लगी

परिवारजनों के गुस्से के सामने सांसद की एक न चली और उन्हें वहां से लौटना पड़ा था. इस पूरे मामले में भाजपा-कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने केस भी दर्ज किया था. भाजपा नेता की मौत के बाद सांसद के समर्थकों ने माधव नगर अस्पताल में तोड़फोड़ भी की थी, उनका वीडियो भी सामने आया था. मामले को लेकर पुलिस ने भाजपा कार्यकर्ताओं के खिलाफ शासकीय संपत्ति को नुकसान पहुंचाने और शासकीय कार्य में बाधा पहुंचाने का केस दर्ज किया था.

बिहार के गांवों का दर्दनाक हाल, कैमूर गांव से ग्राउंड रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *